Sunday, July 21, 2024
HomeविदेशPM Modi meets Zelensky: पुतिन के सबसे बड़े दुश्मन से मिले पीएम...

PM Modi meets Zelensky: पुतिन के सबसे बड़े दुश्मन से मिले पीएम मोदी, जेलेंस्की ने भारत से लगाई ये गुहार

HIROSHIMA, JAPAN: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शनिवार को हिरोशिमा (Hiroshima) में यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की (Ukraine President Volodymyr Zelensky) से मुलाकात की। पीएम मोदी जेलेंस्की से कहा कि, भारत रूस-यूक्रेन युद्ध के समाधान के लिए जो कुछ भी कर सकता है वो करेगा। पिछले साल 24 फरवरी को रूस द्वारा यूक्रेन पर विशेष सैन्य अभियान शुरू करने के बाद दोनों नेता पहली बार मिले थे। उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि, “हिरोशिमा में राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की से मुलाकात की। आगे का रास्ता खोजने के लिए बातचीत और कूटनीति के लिए हमारे स्पष्ट समर्थन से अवगत कराया। हम यूक्रेन के लोगों को मानवीय सहायता देना जारी रखेंगे।”

पीएम नरेंद्र मोदी का ट्वीट

रूस-यूक्रेन जंग रोकने में भारत करेगा मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी G7 शिखर सम्मेलन (G7 summit) में भाग लेने के लिए जापान (Japan) में हैं। मोदी जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा (Fumio Kishida) के निमंत्रण पर जापानी राष्ट्रपति पद के तहत G7 शिखर सम्मेलन में भाग ले रहे हैं। इस शिखर सम्मेलन से इतर मुलाकात के दौरान मोदी ने यूक्रेन के राष्ट्रपति से कहा कि, ”हम पिछले डेढ़ साल से फोन पर बात कर रहे हैं और ग्लासगो के बाद हमें व्यक्तिगत रूप से मिलने का मौका मिला है। यूक्रेन में युद्ध दुनिया के लिए एक बहुत बड़ा मुद्दा है। पूरी दुनिया युद्ध के प्रभावों को महसूस कर रही है। मैं इसे राजनीतिक या आर्थिक मुद्दा नहीं मानता। मेरे लिए ये मानवता का मुद्दा है और भारत इस युद्ध को खत्म करने के लिए हर मुमकिन योगदान देने को तैयार है”

नरेंद्र मोदी और जेलेंस्की की मुलाकात की तस्वीर

यूक्रेन के राष्ट्रपति ने मोदी से मुलाकात पर क्या कहा ?

बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर (S. Jaishankar) और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit Doval) भी मौजूद थे। मोदी से मुलाकात के बाद ज़ेलेंस्की ने ट्विटर पर लिखा, “जापान में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक बैठक हुई। मैंने वार्ताकार को यूक्रेनी शांति सूत्र पहल के बारे में विस्तार से जानकारी दी और भारत को इसके कार्यान्वयन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया।” यूक्रेनी राष्ट्रपति ने आगे कहा कि, “मैंने मानवतावादी विध्वंस और मोबाइल अस्पतालों में यूक्रेन की जरूरतों के बारे में बात की। मैं भारत को हमारे देश की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता का समर्थन करने के लिए, विशेष रूप से अंतरराष्ट्रीय संगठनों के मंचों पर और यूक्रेन को मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए धन्यवाद देता हूं।”

वोलोदिमीर जेलेंस्की का ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular