Tuesday, May 21, 2024
Homeदेशवहशी 'आफ़ताब' का घिनौना सच, श्रद्धा पर करता था कितना ज़ुल्म, जानिए

वहशी ‘आफ़ताब’ का घिनौना सच, श्रद्धा पर करता था कितना ज़ुल्म, जानिए

  • श्रद्धा के साथ पहले से मारपीट करता था आफ़ताब
  • श्रद्धा ने आफ़ताब के खिलाफ पुलिस में की थी शिकायत
  • श्रद्धा के शरीर पर मिले चोट के निशान, आफ़ताब करता था परेशान
  • मुंबई से हिमाचल तक पुलिस की जांच में चौंकाने वाले खुलासे

दिल्ली पुलिस की पूछताछ में श्रद्धा हत्याकांड (Shradha murder case) के आरोपी आफताब (Aftab) की दरिंगदी का सच सामने आने लगा, तो कई लोगों को इस पर यकीन करना मुश्किल हो गया। दरअसल, श्रद्धा के शरीर पर चोट के निशान वाली तस्वीरें सोशिल मीडिया पर वायरल हो गई हैं। बताया जा रहा है कि ये तस्वीर 2020 की है। यानी दो साल पहले ही आफताब ने श्रद्धा के साथ मारपीट करना शुरू कर दिया था, जिसके बाद उसके थाने तक जाने की नौबत आ गई थी। अब इस मामले में श्रद्धा के दोस्त सामने आकर खुलकर बोलते दिखे। श्रद्धा के दोस्त राहुल राय ने कहा कि, ‘मैं उसे पुलिस चौकी लेकर गया। लेकर जाने के बाद उसको कम्प्लेंट लिखवाया, FIR भी करवायी।’ वैसे, कमरे के अंदर की बात अगर पुलिस तक पहुंची थी तो इसकी वजह श्रद्धा के चेहरे के चोट के निशान थे। तस्वीर में श्रद्धा की नाक, दाहिने गाल और गर्दन के नीचे चोट के निशान दिखे। श्रद्धा के दोस्त राहुल राय की मानें तो उसकी पिटाई इस कदर हुई थी कि श्रद्धा को पीठ में दर्द रहने लगा था और गर्दन हिलाने-डुलाने में भी मुश्किल हो रही थी। लेकिन, इसके बावजूद आफताब का खौफ ऐसा था कि उसने अस्पताल में भर्ती होने से इनकार कर दिया।

कहां तक पहुंची श्रद्धा मर्डर केस की जांच ?

श्रद्धा हत्याकांड की जांच के लिए दिल्ली पुलिस (Delhi police) ने कई टीमें बनाई हैं, और इन टीमों को सबूत और सुराग की तलाश के लिए दिल्ली के अलावा गुरुग्राम, मुंबई, उत्तराखंड और हिमाचल भेज दिया है। पुलिस की एक टीम कई गुटों में बंटकर शुक्रवार को छतरपुर जंगल के अलग-अलग हिस्सों में श्रद्धा के शव के टुकड़ों की तलाश करती रही। तो जांच टीम से जुड़ी एक टीम गुरुग्राम के जंगल में ऐसी ही मशक्कत करती दिखी। यहां पुलिस टीम में शामिल लोग लाठी की मदद से मिट्टी और पत्थर हटाकर तफ्तीश करते रहे। जिसके कुछ देर के बाद एक पुलिस वाले के हाथ में काले रंग की पॉलिथीन दिखी, जिसे लेकर ये टीम वहां से निकल गई। माना जा रहा है कि पुलिस वालों को आफताब की बताई जगह से कुछ सुराग़ मिल गए।

श्रद्धा को लेनी पड़ी थी ‘सायकायट्रिस्ट’ की मदद

मुंबई छोड़ने के बाद एक साथ अच्छा वक्त बिताने के लिए श्रद्धा और आफताब उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश भी गए थे। लेकिन इन जगहों पर भी इनका झगड़ा ख़त्म नहीं हुआ। पुलिस को पूछताछ में आफताब ने बताया कि वो मुंबई लौटना चाहता था, जबकि श्रद्धा दिल्ली में ही रहना चाहती थी। आफताब के डेटिंग ऐप पर मुंबई की लड़कियों के संपर्क में होने की वजह से श्रद्धा उसे मुंबई से दूर रखना चाहती थी। इन्हीं वजहों से मुंबई में उनके बीच इतना झगड़ा हुआ कि श्रद्धा को सायकायट्रिस्ट से सलाह लेनी पड़ी। श्रद्धा डॉक्टर से एक ऐसे लक्षण की दवाई मांग रही थी, जो दिमाग़ी बीमारी से जुड़ी थी। हालांकि डॉक्टर ने आमने-सामने मरीज़ को देखे बग़ैर दवा देने से मना कर दिया। यहां सवाल ये उठने लगा कि ये दवाई श्रद्धा अपने लिए मांग रही थी या आफताब के लिए? दिल्ली पुलिस अब ऐसे लोगों तक पहुंच कर सच जानने की कोशिश में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular