Wednesday, April 17, 2024
HomeदेशDelhi Kanjhawala Case: ऐसा जिस्म जिसे देख दिल्ली पुलिस भी दहल उठी,...

Delhi Kanjhawala Case: ऐसा जिस्म जिसे देख दिल्ली पुलिस भी दहल उठी, सड़क को सींचते खून के एक-एक कतरे का पूरा सच

जिस वक्त पूरा देश नए साल के जश्न में डूबा हुआ था, एक बेटी के जिस्म के चीथड़े उड़ रहे थे, हड्डियां सड़क पर घिस-रही थी और खून की धार सड़कों को जैसे सींच रही थी। ये दर्द इतना बेहिसाब था, कि उससे उसकी सांसें छीन ले गया। 31 दिसंबर और 1 जनवरी की दरमियानी रात दिल्ली की सड़कों पर बेदर्दी की इंतहा हो गई। लड़की के शव की हालत देख दिल्ली पुलिस भी दहल उठी। पुलिस के मुताबिक दिल्ली के कंझावला में कार सवार आरोपियों ने पहले स्कूटी सवार लड़की को टक्कर मारी और फिर उसे घसीटते हुए 13 किलोमीटर तक ले गए, जिसकी वजह से लड़की तड़प-तड़कर मर गई। घसीटे जाने की वजह से लड़की की पीठ और सिर की हड्डियां बुरी तरह से घिस गईं, मांस निकल गया और दोनों पैर क्षत-विक्षत हो गए।

इस घटना का CCTV फुटेज भी सामने आया है। लड़की कार की बाईं साइड फंसी हुई थी और कार लगातार चलती जा रही थी, बलेनो कार के नीचे साफ दिखाई दे रहा है कि लड़की घिसटती जा रही है, CCTV में दिख रहा है कि कार जब यू-टर्न ले रही है, उस दौरान कार की रफ्तार धीमी हुई और इस वक्त भी लड़की कार के नीचे फंसी घसीटती जा रही थी।

कार के यू टर्न लेते वक्त CCTV में वक्त रात के 3 बजकर 34 मिनट दिखा रहा है। पुलिस ने कार में सवार सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घरवालों के मुताबिक उनकी बेटी एक इवेंट मैनेटमेंट कंपनी में काम करती थी और नए साल के जश्न के इवेंट के बाद वो स्कूटी से घर लौट रही थी।

दिल्ली पुलिस इसे महज हादसा बता रही है, जबकि लड़की के परिवारवालों का कहना है कि ये सिर्फ हादसा भर नहीं था क्योंकि जब लड़की की लाश मिली तब उसके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था। लेकिन दिल्ली पुलिस का दावा है कि घिसटने की वजह से लड़की के कपड़े फट गए थे, उसके साथ रेप की घटना नहीं हुई। लड़की के परिवारवालों को पुलिस की थ्योरी पर भरोसा नहीं, उन्हें पुलिस की जांच में कमी या फिर मामला कुछ और ही लग रहा है।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धाराएं बढ़ाकर गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है, क्योंकि आरोपियों ने पुलिस के सामने कबूल किया है कि उनको स्कूटी से एक्सीडेंट की जानकारी थी लेकिन वो रुके नहीं और गाड़ी लेकर भाग गए थे। इसीलिए पुलिस ने सभी पर IPC की धारा 304 लगाई है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी हरियाणा के सोनीपत में मौजूद मुरथल में खाना गए थे, लेकिन ज्यादा भीड़ होने की वजह से वापस दिल्ली आ गए। इस दौरान आरोपियो ने गाड़ी में शराब पी और रास्ते भर भी वो शराब पीते रहे। आरोपी सिंघु बॉर्डर होते हुए वापस सुल्तानपुरी इलाके में आ गए थे और यहां सड़कों पर अपनी गाड़ी को घुमाने लगे। जांच में भी शराब पीने की पुष्टि हो गई है।

आरोपियों के बयानों के आधार पर पुलिस CCV की मैपिंग कर रही है। आरोपियों ने जो जो रूट बताए है उस पूरे रुट पर पुलिस CCTV खंगाल रही है, अबतक 400 CCTV कैमरों की जांच की गई है। लड़की का पोस्टमॉर्टम करने के लिए मेडिकल बोर्ड का भी गठन किया है । दिल्ली पुलिस से जुड़े सूत्रों की मानें तो

  • FSL को जांच के दौरान बलेनो कार के अंदर से ख़ून का कोई निशान नहीं मिला है
  • सिर्फ कार के नीचे के हिस्से में ख़ून के निशान मिले हैं जहां बॉडी फंसी हुई थी
  • जांच में गाड़ी के अंदर लड़की के बाल जैसा सबूत अब तक नही मिला है

दिल्ली पुलिस ने पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जिसके बाद उन्हें 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है। उधर, लड़की की मौत पर दिल्ली में काफी हंगामा भी हुआ। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने इसे बेहद शर्मनाक बताया और उम्मीद जताई कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने उठाए गंभीर सवाल

केजरीवाल बोले…’दोषियों को मिले फांसी की सज़ा’

दिल्ली पुलिस ने क्या कहा, कहां तक पहुंची तफ्तीश ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular