Saturday, April 20, 2024
HomeदेशLG Vs Kejriwal: कॉलेज कैंपस के उद्घाटन को लेकर एलजी और केजरीवाल...

LG Vs Kejriwal: कॉलेज कैंपस के उद्घाटन को लेकर एलजी और केजरीवाल में टकराव, वीके सक्सेना ने कुछ ऐसा कहा कि बौखला उठी आम आदमी पार्टी

DELHI: दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Govt.) और केंद्र द्वारा नियुक्त उपराज्यपाल (Lt. Governor) के बीच कभी न खत्म होने वाले विवाद में एक नया अध्याय जुड़ गया। गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय (GGSIPU) के पूर्वी दिल्ली परिसर का उद्घाटन उपराज्यपाल वीके सक्सेना (V K Saxena) और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) दोनों ने किया। लेकिन, ये उद्घाटन समारोह विवाद की वजह बन गया। आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) और दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर के बीच जुबानी जंग शुरु हो गई।

उद्घाटन समारोह में केजरीवाल पर एलजी का परोक्ष हमला

गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के पूर्वी दिल्ली परिसर का उद्घाटन करते हुए एलजी वीके सक्सेना ने कहा कि, इस परिसर को बनाने में 387 करोड़ रुपए खर्च हुए। जिसमें से 346 करोड़ विश्वविद्यालय ने अपने दम पर जुटाए, या कहें केंद्र सरकार ने मदद की। इसका सीधा मतलब ये था कि यूनिवर्सिटी परिसर को बनाने में दिल्ली सरकार ने सिर्फ 41 करोड़ रुपए का योगदान दिया। लेकिन, उनका ये बयान आम आदमी पार्टी को रास नहीं आया। आम आदमी पार्टी ने उल्टा एलजी से पूछ लिया कि, GGSIPU के नए कैंपस को बनाने में उनका क्या योगदान है।

दिल्ली के एलजी वीके सक्सेना का भाषण

अरविंद केजरीवाल के सामने लगे मोदी-मोदी के नारे

आम आदमी पार्टी इस बात से भी नाराज़ दिखी की कैंपस के उद्घाटन के बाद बीजेपी के पक्ष में नारेबाज़ी हुई। दरअसल, GGSIPU के नए कैंपस के उद्घाटन के बाद जब अरविंद केजरीवाल ने भाषण देना शुरू किया तो वहां मौजूद बीजेपी (BJP) कार्यकर्ता मोदी-मोदी के नारे लगाने लगे। केजरीवाल ने भाषण रोक कर कहा कि, मेरी बात पांच मिनट सुन लीजिए। अगर अच्छी न लगे तो छोड़ देना। लेकिन, नारे लगाने वाले नहीं माने। आम आदमी पार्टी की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आई आतिशी मर्लिना (Aatishi) ने कहा कि, LG साहब बीजेपी के गुंडों को अपने साथ लेकर आए थे।

आतिशी के आरोप

GGSIPU के नए परिसर को लेकर विवाद की शुरुआत कैसे हुई?

GGSIPU के नए कैंपस के उद्घाटन को लेकर विवाद की शुरुआत तब हुई थी जब दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी मर्लिना (Atishi) ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में घोषणा की थी कि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नए परिसर का उद्घाटन करेंगे। जिसके बाद LG के कार्यालय द्वारा इस बयान का खंडन किया गया। एलजी ऑफिस ने इस घोषणा पर आश्चर्य व्यक्त किया और कहा कि, ये पहले से ही तय था कि वीके सक्सेना नए परिसर का उद्घाटन करेंगे।

एलजी पर हमला बोलते सौरभ भारद्वाज

एलजी के कार्यालय के बयान के जवाब में आतिशी ने तर्क दिया कि केजरीवाल सरकार पिछले आठ वर्षों में शिक्षा, उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा पर लगन से काम कर रही है। उन्होंने कहा, “आज अगर आप दिल्ली की सड़कों पर जाएं और किसी भी नागरिक से पूछें कि दिल्ली में शिक्षा क्रांति किसने लाई, तो वे कहेंगे अरविंद केजरीवाल, वो ये नहीं कहेंगे कि भाजपा द्वारा नियुक्त एलजी ने शिक्षा पर काम किया।” उन्होंने दावा किया कि GGSIPU परिसर तीन राज्य विश्वविद्यालय परिसरों का हिस्सा है जिसे केजरीवाल सरकार ट्रांस-यमुना क्षेत्र में विकसित कर रही है।

GGSIPU के नए परिसर में विद्यार्थियों के लिए क्या है खास ?

GGSIPU के नए कैंपस में पहले से मौजूद स्कूल ऑफ ऑटोमेशन एंड रोबोटिक्स और स्कूल ऑफ डिजाइन एंड इनोवेशन के अलावा जुलाई से प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर स्कूल होगा। ये स्कूल अपने द्वारा प्रदान किए जाने वाले पाठ्यक्रमों के बीच तालमेल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से संकाय सदस्यों और प्रयोगशालाओं सहित संसाधनों को साझा करेंगे। नए परिसर ने अपने आवासीय और छात्रावास ब्लॉकों के लिए भू-तापीय शीतलन प्रौद्योगिकी भी लागू की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular