Saturday, July 13, 2024
HomeदेशMinor burnt alive after Gangrape in Rajasthan: 14 साल की बच्ची से...

Minor burnt alive after Gangrape in Rajasthan: 14 साल की बच्ची से पहले गैंगरेप, फिर ईंट-भट्टे में जिंदा फूंक डाला..मणिपुर पर शोर, राजस्थान पर सन्नाटा?

मणिपुर के मामले में लोकसभा और राज्यसभा में हंगामा इस कदर सातवें आसमान पर है, कि स्पीकर तक ये कह चुके हैं कि संसद आने का मन नहीं करता। महिला अपराध और सम्मान को लेकर आक्रोश का ऐसा भाव फूटना ये दर्शा सकता है कि महानुभाव कितने मर्म से भरे हुए हैं। मगर दूसरा ही क्षण ये बता देता है कि ये ऐसी विलक्षण प्रतिभा है, जो राज्य बदलने पर बदल जाती है। फिर तो भाव ही नहीं, पूरा हावभाव बदल जाता है। 
राजस्थान (Rajasthan) में एक 14 साल की बच्ची को दुष्कर्म के बाद ईंट भट्टे में फूंक (burnt in brick kiln after rape) दिया जाता है। मगर मणिपुर जैसी हृदयविदारक पीड़ा इन्हें राजस्थान में नहीं होती। एक 14 साल की बच्ची जिसकी आंखों ने अभी सपने देखने शुरू ही किए होंगे। उसे ऐसी जिल्लद भरी और दर्दनाक मौत दी गई। मगर उन आंखों में पानी नहीं हैं, जो मणिपुर के लिए बरस रही हैं। उस जुबां पर एक भी लफ्ज नहीं हैं, जिस पर मणिपुर के लिए नारे गूंज रहे हैं। अपराध सिर्फ अपराध है और महिला सिर्फ महिला, चाहे मणिपुर की हो या राजस्थान की। तो कहीं के लिए शोर और कहीं के लिए सन्नाटा क्यों? 
मणिपुर में महिलाओं के साथ जो हुआ वो विभत्स है, एक सभ्य समाज पर ऐसा कलंक है, जिसकी कालिख अमिट है। मगर राजस्थान के भीलवाड़ा में भी जो हुआ क्या वो दर्दनाक नहीं है? पीड़ादायक नहीं है? क्या उस बच्ची को न्याय दिलाने के लिए आवाज नहीं उठनी चाहिए? क्या परिवार को इंसाफ का भरोसा दिलाने के लिए उस कांग्रेस का हाथ उठना चाहिए जो मणिपुर के नाम पर तना हुआ है?  
ईंट-भट्टे में जांच करती पुलिस

ईंट भट्टे में मिले बच्ची की हड्डियों के टुकड़े

सीधा सवाल ये है कि राज्य बदलने पर महिला अपराध की परिभाषा क्यों बदल जाती है? 14 साल की लड़की की भयावह हत्या ने राजस्थान को झकझोर कर रख दिया है। नाबालिग के जले हुए अवशेष भीलवाड़ा (Bhilwara) के एक ईंट भट्टे में पाए गए। लड़की के भाई ने बताया कि छोटी बहन बकरियां चराने के लिए घर से निकली थी और फिर लौटी ही नहीं। ग्रामीणों ने खोजबीन की तो रात में एक ईंट भट्टा धधकता हुआ मिला। रात में ईंट भट्टे में आग देखकर लोगों को शक हुआ तो आग में बच्ची का पहना हुआ चांदी का कड़ा दिखा और हड्डी के टुकड़े (bone fragments) भी नजर आए। ग्रामीणों के मुताबिक उन्होंने जिन कालबेलिया लोगों को पकड़ा, उन्होंने गैंगरेप और जलाने की बात कही है। एसपी ने भी बच्ची के साथ दुष्कर्म की आशंका जताई।
प्रतीकात्मक तस्वीर

महिलाओं के साथ अपराध को लेकर राजस्थान बदनाम

महिला अपराध को लेकर राजस्थान सबसे ज्यादा बदनाम हो चुका है। महिलाओं से दुष्कर्म के मामले में राजस्थान देशभर में टॉप पर है (Rajasthan on top in rape of women)। नेशनल रिकॉर्ड क्राइम ब्यूरो (National Record Crime Bureau) के मुताबिक यहां महिला दुष्कर्म के मामले सबसे ज्यादा 4 हजार 8 सौ 85 दर्ज किए गए हैं। नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में राजस्थान दूसरे नंबर पर है। यहां 1452 मामले रिपोर्ट हुए हैं। कुल मिलाकर राजस्थान में महिला अपराध के 6 हजार 3 सौ 37 मामले दर्ज किए गए हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि महिला अपराध को लेकर हंगामा करने वाली कांग्रेस पार्टी राजस्थान में हालात क्यों नहीं सुधारती? क्या आरोप-प्रत्यारोप से ही राज्यों में रामराज्य आ जाएगा?   

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular