Monday, April 22, 2024
HomeदेशRahul Gandhi in Lok Sabha: राहुल गांधी के 35 मिनट वाले भाषण...

Rahul Gandhi in Lok Sabha: राहुल गांधी के 35 मिनट वाले भाषण पर विवाद का ग्रहण, स्मृति ईरानी ने लगाया ‘फ्लाइंग किस’ देने का आरोप

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का लोकसभा (Loksabha) में दिए गए भाषण (Speach) के बाद एक नया सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया। बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Union Minister Smriti Irani) ने राहुल गांधी पर महिला सांसदों को 'फ्लाइंग किस' देने का आरोप (Rahul Gandhi accused of giving 'flying kiss' to women MPs) लगाया। दरअसल, अविश्वास प्रस्ताव (No confidence motion) के दूसरे दिन सबसे पहले राहुल गांधी ने भाषण (Rahul Gandhi speech) की शुरुआत की। राहुल ने मणिपुर में हो रही हिंसा पर विवादित टिप्पणी की (Rahul made controversial remarks on Manipur violence)। उन्होंने कहा कि, मणिपुर में 'भारत माता की हत्या' ('Murder of Bharat Mata in Manipur) हुई है। इसके बाद बीजेपी की ओर से स्मृति बोलने के लिए खड़ी हुईं। ईरानी ने राहुल गांधी को घेरते हुए कश्मीरी पंडितों के नरसंहार, 1984 के सिख दंगे जैसी घटनाओं का जिक्र किया। इसी दौरान स्मृति ईरानी ने फ्लाइंग किस वाली बात का जिक्र किया।
गौर करने वाली बात ये कि राहुल गांधी पर फ्लाइंग किस देने का गंभीर आरोप तो लगा, लेकिन इसकी तस्दीक नहीं हो पाई। जिस वक्त राहुल ने ये कथित हरकत की उस वक्त कैमरा उनकी तरफ नहीं था। हालांकि, बाद में कुछ टेलीविज़न चैनलों ने एक वीडियो दिखाया जिसमें राहुल कुछ इशारा करते तो दिखे, लेकिन, उससे ये साफ नहीं हो पा रहा कि उन्होंने फ्लाइंग किस ही दी थी।
सोशल मीडिया पोस्ट
इस मुद्दे पर बीजेपी सांसद शोभा करंदलाजे ने स्पीकर ओम बिड़ला (Speaker Om Birla) से राहुल गांधी की शिकायत (Rahul Gandhi's complaint) की है। उनके साथ 21 महिला सांसदों ने भी इस मामले में शिकायत दर्ज कराई है जिनमें बीजेपी सांसद पूनम महाजन भी शामिल हैं। खैर, अपने 35 मिनट के भाषण में राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। मणिपुर का मुद्दा जोरशोर से उठाया। राहुल गांधी ने कहा कि ये भारत मां की हत्या करने वाले देशद्रोही हैं। 
सोशल मीडिया पोस्ट
राहुल गांधी ने पीएम मोदी की तुलना रावण से भी की। कहा कि जैसे रावण सिर्फ दो लोग मेघनाथ और कुंभकर्ण की सुनता था। वैसे ही नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) सिर्फ अमित शाह और अडानी की सुनते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular