Saturday, July 13, 2024
HomeदेशSidhu Moosewala Murder Case: अजरबैजान से भारत लाया गया लॉरेंस बिश्नोई का...

Sidhu Moosewala Murder Case: अजरबैजान से भारत लाया गया लॉरेंस बिश्नोई का करीबी, सचिन बिश्नोई ने दुबई से रची थी मूसेवाला के मर्डर की साजिश, खोलेगा कई राज

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala) हत्याकांड के आरोपियों में से एक सचिन बिश्नोई (Sachin Bishnoi) को मंगलवार को अजरबैजान (Azerbaijan) के बाकू से भारत प्रत्यर्पित किया गया। पुलिस के मुताबिक, सचिन बिश्नोई लॉरेंस बिश्नोई गिरोह (Lawrence Bishnoi gang) का अहम सदस्य है और उसने दुबई स्थित कारोबारी से फिरौती मांगी थी। 29 मई, 2022 को पंजाब के मनसा जिले में सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 
लॉरेस बिश्नोई और सचिन बिश्नोई
सचिन बिश्नोई, जो लॉरेस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) का भतीजा बताया जाता है, डकैती, जबरन वसूली, जमीन पर कब्जा और अपहरण जैसी आपराधिक गतिविधियों में सक्रिय रूप से शामिल रहा है। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी एचजीएस धालीवाल ने कहा कि, ''आज स्पेशल सेल ने सचिन बिश्नोई को बाकू, अजरबैजान से प्रत्यर्पित किया है। सचिन बिश्नोई ने सिद्धू मूसेवाला को गोली मारने के दो दिन बाद उनकी हत्या की जिम्मेदारी ली थी। आज सुबह सचिन बिश्नोई को अजरबैजान से लाया गया। इससे पहले 4 शूटर गिरफ्तार किए गए थे। 
जानकारी के मुताबिक सचिन बिश्नोई  के खिलाफ अलग-अलग राज्यों में कुल 15 मामले दर्ज हैं। लॉरेंस की मां सचिन की मौसी है। बकौल पुलिस, मूसेवाला की हत्या में जिस बोलेरो गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था, उसका इंतजाम उसने ही किया था। हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियारों का इंतजाम भी उसने ही किया था। 2017 में छात्र वीजा पर कनाडा पहुंचे लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के सदस्य गोल्डी बराड़ (Goldy Brar) ने कथित तौर पर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी। लेकिन कनाडा में उसपर किसी भी अपराध का आरोप नहीं लगाया गया है। पंजाब के मुक्तसर से ताल्लुक रखने वाला गोल्डी बराड़ तब से फरार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular