Friday, June 21, 2024
HomeदेशWrestlers Protest: बृजभूषण सिंह पर एक्शन तेज, कई ठिकानों पर पुलिस की...

Wrestlers Protest: बृजभूषण सिंह पर एक्शन तेज, कई ठिकानों पर पुलिस की दबिश, जानिए अब क्या है पहलवानों का नया प्लान?

तो क्या दिल्ली (Delhi) के जंतर-मंतर (Jantar Mantar) पर धरना दे रहे पहलवानों की मांगे मान ली गई? क्या बृजभूषण शरण सिंह (Brij Bhushan Sharan Singh) के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी? क्या जांच समिति के निष्कर्ष पहलवानों की मांगों और आंदोलन की धमकी के आगे टिक नहीं सके? क्या सरकार ने पहलवानों, खाप पंचायतों, आंदोलनजीवियों के सामने सरेंडर कर दिया? ये तमाम सवाल इसलिए क्योंकि महिला पहलवानों के यौन शोषण के आरोपों में फंसे बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के ख़िलाफ़ पुलिस का एक्शन तेज़ हो गया, जबकि दिल्ली में होने वाली खाप महापंचायत को भी रद्द कर दिया गया।

बृजभूषण शरण सिंह के घर दिल्ली पुलिस

बृजभूषण शरण सिंह के ठिकानों पर दिल्ली पुलिस की दबिश!

दिल्ली पुलिस की एक टीम बृजभूषण शरण सिंह के घर और उनके ठिकानों पर पहुंची। पुलिस ने उनके जानकारों और उनके यहां काम करने वाले लोगों के बयान दर्ज्ा किए। यौन शोषण के मामले की तफ्तीश में जुटी दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की एक टीम लखनऊ (Lucknow) और गोंडा (Gonda) पहुंची। बृजभूषण सिंह के यहां काम करने वाले लोगों के बयान दर्ज किए गए। जानकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस की टीम पहले लखनऊ में बृजभूषण शरण सिंह के घर गई जहां काम करने वाले तीन लोगों के बयान दर्ज किए। इसके बाद वही टीम बृजभूषण के गोंडा वाले घर में जांच के लिए पहुंचीं जहां पुलिस ने घर में काम करने वाले 15 से ज़्यादा लोगों के बयान दर्ज किए। दिल्ली पुलिस ने सांसद बृजभूषण शरण सिंह के ड्राइवर, नौकर, माली और सुरक्षाकर्मियों के बयान दर्ज किए। पुलिस ने जिनके बयान लिये उनके पहचान पत्र भी जांच में शामिल किए पुलिस ने जांच में पूछा कि वो लोग बृजभूषण शरण सिंह को कैसे जानते हैं और उनके यहां कब से काम करे हैं। पूछताछ के बाद जांच के लिए पहुंची पुलिस की टीम गोंडा से दिल्ली वापस लौट गई।

फाइल फोटो

राकेश टिकैत ने किया खाप महापंचायत रद्द करने का ऐलान

पहलवानों के समर्थन में 9 जून को दिल्ली में होने वाली खाप महापंचायत (Khap Mahapanchayat) को रद्द कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से हुई पहलवानों की मुलाकात के बाद ये फैसला लिया गया। खाप महापंचायत को रद्द किए जाने की जानकारी भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने दी। राकेश टिकैत के मुताबिक आगे खाप की क्या रणनीति होगी और कब महापंचायत होगी इसका फैसला पहलवानों से बात करने के बाद ही लिया जाएगा। हालांकि, टिकैत ने ये भी साफ कर दिया कि पहलवानों की नौकरी पर वापस जाने का मतलब ये नहीं कि उनकी लड़ाई ख़त्म हो गई। राकेश टीकैत ने कहा कि, हमारी मांग थी कि सरकार पहलवानों से बात करे जिसकी शुरूआत हो गई है और आगे इसके क्या परिणाम होंगे वो बृजभूषण के खिलाफ चल रही जांच के बाद ही साफ होगा।

फाइल फोटो

बोले पहलवान…जारी रहेगा बृजभूषण के खिलाफ उनका संग्राम

जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने वाले पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने एक वीडियो जारी कर लोगों से अफवाहों से दूर रहने की अपील की है। उन्होंने इस बात दावा किया कि बृजभूषण शरण सिंह के ख़िलाफ़ कोई केस वापस नहीं लिया गया और ना ही महिला पहलवानों को न्याय दिलाने के लिए शुरू किया गया आंदोलन ख़त्म किया गया है। दरअसल बताया जा रहा है कि पहलवान अपनी ड्यूटी पर लौट गए हैं। मगर बजरंग पुनिया ने इस बात का भी दावा किया कि अगर उनके आंदोलन में नौकरी बाधा बनती है तो वो लोग रेलवे की नौकरी छोड़ने के लिए भी तैयार हैं।

बजरंग पुनिया ने कहा कि जब तक इस लड़ाई में पीड़ित महिला पहलवानों को न्याय नहीं मिल जाता तब तक ये लड़ाई जारी रहेगी। बजरंग पुनिया के साथ ही पहलवान साक्षी मलिक (Sakshi Malik) ने भी अपने समर्थकों से अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की। साक्षी ने दावा किया कि उनका आंदोलन जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular