Tuesday, May 21, 2024
Homeराज्यBihar: सीएम नीतीश कुमार को आया गुस्सा, जानिए क्यों गिनवाने लगे अपनी...

Bihar: सीएम नीतीश कुमार को आया गुस्सा, जानिए क्यों गिनवाने लगे अपनी डिग्रियां

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को एक किसान को अंग्रेजी शब्दों का इस्तेमाल करने के लिए फटकार लगाई। ये किसान अपनी रोमांचक जीवन यात्रा के बारे में बता रहा था, लेकिन उसने अंग्रेजी में बोलना शुरु किया तो सुशासन बाबू का पारा चढ़ गया। बापू सभागार में राज्य सरकार के चौथे कृषि रोडमैप (किसान समागम) के उद्घाटन के मौके पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। यहां लखीसराय का रहने वाले किसान अमित कुमार भी हिस्सा ले रहे थे। अमित कुमार ने एक ऐसा माहौल बनाने के लिए मुख्यमंत्री की प्रशंसा की जिसमें वो पुणे में एक आशाजनक कैरियर के साथ एक प्रबंधन स्नातक, सब कुछ छोड़ने और अपने मूल जिले में मशरूम की खेती करने का साहस जुटा सके। लेकिन, कृषि उद्यमी अमित कुमार कुछ मिनट ही बोल पाए थे कि 70 वर्षीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें रोक दिया। अमित कुमार अपनी सीट पर बैठे रहे, लेकिन उन्हें माइक का इस्तेमाल करने से रोक दिया गया। नीतीश कुमार ने अमित कुमार से कहा कि…

''मैं आपको अंग्रेजी के इतने सारे शब्दों का इस्तेमाल करने की असंगति की ओर इशारा करना चाहता हूं। क्या यह इंग्लैंड है? आप बिहार में काम कर रहे हैं, कृषि का अभ्यास कर रहे हैं जो आम लोगों का पेशा है।''
सोशल मीडिया पोस्ट

महान समाजवादी राम मनोहर लोहिया के कट्टर अनुयायी, जिन्होंने सामाजिक असमानता को दूर करने के लिए उपयोग किए जाने वाले कई उपकरणों में से एक के रूप में स्थानीय भाषाओं के मुद्दे का समर्थन किया, मुख्यमंत्री ने यह भी विचार व्यक्त किया कि, कोविड-प्रेरित लॉकडाउन के दौरान स्मार्टफोन की लत ने कई लोगों को अपनी भाषाओं को भूलने के लिए प्रेरित किया है। सरकारी योजनाओं शब्द का उपयोग ना करने के लिए भी सीएम नीतीश कुमार ने अमित कुमार को खरी खोटी सुनाई।

''यह क्या है? क्या आप सरकारी योजना नहीं कह सकते? मैं प्रशिक्षण से एक इंजीनियर हूं और मेरी शिक्षा का माध्यम अंग्रेजी था। लेकिन अकादमिक गतिविधियों के लिए भाषा का उपयोग करना अलग बात है। आपको दिन-प्रतिदिन के जीवन में ऐसा क्यों करना चाहिए?''

इसके बाद लखीसराय के प्रतिनिधि ने फिर से बोलना शुरू करने से पहले माफी मांगी। लेकिन, बीजेपी ने इस मुद्दे को हाथों हाथ लपक लिया। लंबे समय से नीतीश कुमार के साथ सत्ता साझा करने वाली और 6 महीने पहले JDU नेता के सत्ता छोड़ने के बाद नीतीश कुमार को कोस रही बीजेपी को इस मौके पर अपने पूर्व सहयोगी को आड़े हाथों लेने का एक मौका मिल गया। प्रदेश बीजेपी नेता और ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव निखिल आनंद ने कहा कि, ‘क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अंग्रेजी भाषा से नाराज हैं या इसके इस्तेमाल से? सार्वजनिक संबोधन में अंग्रेजी शब्दों के उपयोग पर उनकी आपत्ति बिल्कुल हास्यास्पद है’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular