Sunday, July 21, 2024
Homeराज्यWrestler Sexual Harassment Case: कुश्ती संघ अध्यक्ष बृज भूषण सिंह के खिलाफ...

Wrestler Sexual Harassment Case: कुश्ती संघ अध्यक्ष बृज भूषण सिंह के खिलाफ SC पहुंचे पहलवान, FIR दर्ज करने को लेकर छेड़ा ‘दंगल’, जानिए राजनीतिक पार्टियों के लिए क्या कहा?

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृज भूषण सिंह (Brij Bhushan Singh) के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग को लेकर पहलवानों ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का दरवाजा खटखटाया। बृज भूषण सिंह महिला पहलवानों के यौन शोषण के आरोपों में घिरे हैं। राष्ट्रमंडल और एशियाई दोनों खेलों में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगट (Vinesh Phogat) सहित शीर्ष पहलवानों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है।

WFI प्रमुख के खिलाफ रविवार से दिल्ली के जंतर-मंतर पर पहलवानों ने तीन महीने बाद फिर से अपना विरोध प्रदर्शन शुरू किया। पहलवानों ने मांग की है कि केंद्र डब्ल्यूएफआई प्रमुख के खिलाफ आरोपों की जांच करने वाली पांच सदस्यीय निरीक्षण समिति के निष्कर्षों को सार्वजनिक करे। बजरंग पुनिया (Bajrang Punia), साक्षी मलिक (Sakshi Malik) और रवि दहिया (Ravi Dahiya) सहित पहलवानों (wrestlers) ने जनवरी में इस मुद्दे पर अपना विरोध शुरू किया था, लेकिन केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के आश्वासन के बाद अपना धरना समाप्त कर दिया था।

पहलवानों के आरोपों की जांच पूरी, रिपोर्ट का इंतज़ार

अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने आरोपों की जांच के लिए महान मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम (MC Mary Kom) की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय निगरानी समिति के गठन की घोषणा की थी। पैनल ने अप्रैल के पहले सप्ताह में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की, लेकिन मंत्रालय ने अभी तक अपने निष्कर्षों को सार्वजनिक नहीं किया है।

बृज भूषण सिंह, WFI अध्यक्ष

एक नाबालिग सहित कई महिला पहलवानों ने आरोप लगाया है कि बृज भूषण सिंह ने डब्ल्यूएफआई में अपने कार्यकाल के दौरान उनका यौन उत्पीड़न किया। 21 अप्रैल को कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में एक शिकायत भी दर्ज की गई थी। दिल्ली पुलिस ने जांच समिति से रिपोर्ट मांगी है और कहा है कि उन्हें 7 शिकायतें मिली हैं और मामले की जांच की जा रही है।

धरना देते हुए पहलवान

दिल्ली महिला आयोग को पहलवानों ने दी लिखित शिकायत

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने रविवार को कहा कि उसे महिला पहलवानों से शिकायत मिली है जिसमें आरोप लगाया गया है कि उन्होंने दो दिन पहले पुलिस को लिखित शिकायत दी थी, लेकिन अभी तक कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है।

‘विरोध में शामिल होने के लिए सभी पार्टियों का स्वागत’

पहलवानों ने जोर देकर कहा है कि जब तक पुलिस इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं करती तब तक वो धरना स्थल पर डटे रहेंगे। ओलंपिक पदक विजेता बजरंग पुनिया ने सोमवार को कहा कि पिछली बार के विपरीत पहलवान अब राजनीतिक दलों के विरोध में शामिल होने के लिए तैयार हैं। पुनिया ने कहा, “हम किसी पार्टी के लिए नहीं बल्कि देश के लिए खेलते हैं और जीतते हैं। केवल एक पार्टी नहीं बल्कि हर कोई हमें हमारी जीत पर बधाई देता है। इसलिए, इस बार हम अपने विरोध में शामिल होने के लिए सभी पार्टियों और देशवासियों का स्वागत करते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular