Tuesday, April 23, 2024
HomeविदेशBritish minister Suella Braverman called Pakistanis rapists: बौखलाए पाकिस्तान की ब्रिटिश मंत्री...

British minister Suella Braverman called Pakistanis rapists: बौखलाए पाकिस्तान की ब्रिटिश मंत्री को धमकी, जानिए भारतवंशी सुएला ब्रेवरमैन ने पाकिस्तानियों को क्यों कहा रेपिस्ट

ब्रिटेन की गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन के एक बयान से पाकिस्तान में हड़कंप मच गया। सुएला ब्रेवरमैन ने कहा कि गोरी अंग्रेज लड़कियों का पाकिस्तानी रेप करते हैं। यही नहीं एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में ब्रेवरमैन ने ब्रिटेन में रह रहे पाकिस्तानियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि..

  • कुछ ब्रिटिश-पाकिस्तानी यूके में बाल शोषण गिरोह चला रहे हैं
  • ये गिरोह अंग्रेज लड़कियों को ड्रग्स देता है, उनका बलात्कार करता है
  • उन्होंने पाकिस्तानी मूल के नागरिकों को प्रशासन की ओर से छूट मिलने का भी आरोप लगाया।

ब्रेवरमैन के इस बयान के बाद पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार बौखला गई। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मुमताज जेहरा बलोच ने कहा कि..

''ब्रेवरमैन ने ब्रिटिश-पाकिस्तानी पुरुषों पर अलग तरीके से निशाना साधने और उनसे इसी तरह व्यवहार करने के इरादे से बहुत ज्यादा भ्रामक तस्वीर पेश की। ब्रिटिश गृह मंत्री ने कुछ लोगों के आपराधिक व्यवहार को गलत तरह से पेश करते हुए पूरे समुदाय को जिम्मेदार ठहरा दिया।''
F-9 पार्क, इस्लामाबाद

पाकिस्तान में बलात्कार के बाद पार्क में जाने पर ही पाबंदी

भले ही पाकिस्तान का विदेश मंत्रालय ब्रिटिश मंत्री सुएला ब्रेवरमैन के बयान की आलोचना की है, लेकिन सच सामने आ ही जाता है। कुछ दिनों पहले इस्लामाबाद के एफ-नाइन पार्क में एक लड़की से रेप की घटना सामने आई थी जिसके बाद इस्लामाबाद पुलिस ने पार्क में आने वालों को रोशनी वाली जगह पर बैठने की ही नसीहत दी थी।

कैपिटल डेवेलपमेंट अथॉरिटी ने हर पार्क के लिए एक मैनेजर नियुक्त कर दिया था। जबकि 6 बजे के बाद लोगों के पार्क में आने पर पाबंदी लगा दी गई थी। हालांकि, इस सबके बावजूद पाकिस्तान में हर रोज़ बलात्कार की वारदात होती रहती है।

पाकिस्तान में बलात्कार की घटनाएं

  • पाकिस्तान में हर रोज़ रेप की 12 घटनाएं दर्ज की जाती हैं
  • साल 2022 में यौन हिंसा के 2856 केस दर्ज किए गए थे
  • 2017 से 2021 तक 21 हजार 900 रेप केस दर्ज किए गए
  • जबकि यौन हिंसा के 4 प्रतिशत मामलों पर ही सुनवाई हो सकी

अब इन आंकड़ों को देखने के बाद भी अगर पाकिस्तान की सरकार को लगता है कि सुएला ब्रेवरमैन के आरोप बेबुनियाद हैं तो उसकी समझ पर सवाल उठने तय हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular