Sunday, April 21, 2024
HomeविदेशChina Covid Pandemic: करीब 4 करोड़ लोग हर रोज़ हो रहे संक्रमित,...

China Covid Pandemic: करीब 4 करोड़ लोग हर रोज़ हो रहे संक्रमित, लेकिन जिनपिंग हो गए हैं अदृश्य !

140 करोड़ की आबादी वाले चीन में कोरोना बहुत तेज़ी से पैर पसार रहा है। कोरोना ने बीजिंग समेत चीन के लगभग सभी शहरों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है, और लोगों को मौत की नींद सुला रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में तो श्मशान के बाहर शव ही शव पड़े नज़र आ रहे हैं। जिस शख्स ने वीडियो बनाया है वो चलता जा रहा है, लेकिन शवों की गिनती ख़त्म होने का नाम नहीं ले रही। हालांकि, चीन की सरकार अब भी आंकड़े छिपा कर हर बार की तरह अपनी जनता और पूरी दुनिया को धोखा देने की कोशिश कर रही है। जबकि, सच्चाई को छिपाना इतना आसान भी नहीं है। एक रिपोर्ट के मुताबिक…

  • चीन के जीलिन प्रांत के चांगचुन में पिछले दो दिनों से लगातार लोगों की मौतें हो रही हैं।
  • शवों को रखने तक की जगह नहीं बची है।
  • हर रोज़ करीब 60 शवों का दाह संस्कार किया जा रहा है।
  • शवों को जलाने के लिए कर्मचारियों के नाम पर सिर्फ एक शख्स मौजूद है।
  • ख़बरों की मानें तो मारे गए लोगों के अंतिम संस्कार के लिए पहले 24 घंटे की वेटिंग थी।
  • लेकिन, अब लोगों को अपनों का अंतिम संस्कार करने के लिए 3 दिन तक इंतजार करना पड़ रहा है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में इस महीने के शुरुआती 20 दिनों में 24 करोड़ 80 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। जबकि, लाखों की संख्या में लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, चीन की सरकार ने पिछले 24 घंटे में सिर्फ 2668 नए केस सामने आने की बात कही है।

चीन में रोज़ाना आ रहे लाखों कोरोना मामले

चीन में कोरोना की अबतक की सबसे खतरनाक लहर आई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हर दिन लाखों की संख्या में नए मरीज सामने आने से अस्पतालों में लोगों को बेड नहीं मिल रहे हैं तो वहीं दवाओं की भी भारी किल्लत हो गई है। रिपोर्ट्स की मानें तो

  • चीन में हर रोज 3 करोड़ 70 लाख से ज्यादा नए कोरोना केस सामने आ रहे हैं
  • जिसे लेकर चीनी सरकार के स्वास्थ्य प्राधिकरण ने कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना को रिपोर्ट भेजी है
  • चीन के स्वास्थ्य प्राधिकरण ने आशंका जताई है कि कोरोना लहर जनवरी 2023 में सभी शहरों में पीक पर होगी
  • जनवरी 2023 के आखिर में शेन्जेन, शंघाई और चोंगकिंग में सबसे ज्यादा केस सामने आ सकते हैं
  • चीन में सिर्फ दिसंबर के महीने में 9 साल तक के 1 हज़ार 758 बच्चों की कोरोना से मौत की रिपोर्ट है
  • यही नहीं दिसंबर में 75 साल से ज़्यादा उम्र के 1 लाख 67 हजार से ज्यादा बुजुर्गों की मौत भी कोरोना की वजह से हुई है
  • चीन में दवाइयों की भारी कमी है, इसलिए WHO के ज़रिए वो दुनिया भर के देशों से मदद मांगने पर विचार कर रहा है
  • अगले 24 घंटे के भीतर रूस की स्पुतनिक वैक्सीन की लगभग 1 करोड़ डोज बीजिंग पहुंच सकती है
  • ख़बरें तो यहां तक हैं कि चीन की सरकार दुनिया की सभी वैक्सीन को अपने देश में मंजूरी दे सकती है

चीन में ‘संक्रमण’काल, जिनपिंग हुए फरार !

दरअसल, शी जिनपिंग की ज़ीरो कोविड नीति ने चीन की अर्थव्यवस्था को बुरी तरह से प्रभावित किया, लोगों में नेचुरल इम्यूनिटी नहीं बन पाई, यही नहीं जिनपिंग प्रशासन अपने लोगों की जान बचा पाने में भी नाकाम हो गई। नतीजा ये कि शी जिनपिंग की मुखालफ़त हो रही है, और उनके खिलाफ बड़े विद्रोह की आशंका भी जताई जा रही है। जबकि, राष्ट्रपति शी जिनपिंग सामने नहीं आ रहे। उन्होंने जनता को अबतक संबोधित भी नहीं किया। एक रिपोर्ट के मुताबिक…

  • 3 दिसंबर से 23 दिसंबर के बीच चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के करीब 30 बड़े नेताओं की मौत हो चुकी है। जिनमें से 5 पोलित ब्यूरो के सदस्य थे।
  • कोरोना के दौरान कम्युनिस्ट पार्टी के कुछ बड़े नेताओं के वियतनाम भागने की भी खबर है।

चीन की सरकार ने क्रिसमस और नए साल के सारे कार्यक्रमों पर बैन लगाया हुआ है। हालांकि, बीजिंग और शंघाई में कोविड प्रतिबंधों को लेकर ढील दी गई गई। लोग कामकाज पर लौट चुके हैं। सोमवार को मेट्रो ट्रेनें खचाखच भरी हुई नज़र आईं। लेकिन, सवाल जिनपिंग को लेकर अब भी उठ रहे हैं, कि वो जनता को मौत के चक्रव्यूह में फंसाकर कहां गायब हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular