Wednesday, April 17, 2024
HomeविदेशPakistan: शहबाज़ शरीफ की शर्मनाक करतूत। आतंकी हाफिज़ को बचाने के लिए...

Pakistan: शहबाज़ शरीफ की शर्मनाक करतूत। आतंकी हाफिज़ को बचाने के लिए भारतीय खुफिया एजेंसी पर उछाला कीचड़।

  • पाकिस्तान ने भारत पर लगाया आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने का आरोप
  • पाकिस्तान के गृह मंत्री ने जौहर ब्लास्ट में घसीटा भारतीय एजेंसी का नाम
  • पाकिस्तान ने भारत को दी अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने बेनकाब करने की धमकी

सोमवार को पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर पर मौजूद चमन इलाके में गोलाबारी हुई। पाकिस्तान की सरकार ने अफगानिस्तान की तालिबान सरकार को इस गोलाबारी के लिए कसूरवार ठहराया। पाकिस्तान की सरकार ने कहा कि तालिबान प्रशासन से उसने इस गोलाबारी को लेकर आपत्ति भी दर्ज कराई है। इसके बाद पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ मीडिया के सामने आए और कहा कि तालिबान सरकार ने इस गोलाबारी के लिए माफी मांग ली है और मामला रफा-दफा हो चुका है। लेकिन, 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि पाकिस्तान की सरकार ने एक बार फिर वही पुराना राग अलापा और हिंदुस्तान पर आरोप लगा दिया कि वो पाकिस्तान में हमले करवा रहा है। पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह (Rana Sanaullah) ने कहा कि, पाकिस्तान के पास इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि भारत उनके मुल्क में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा दे रहा है। राणा सनाउल्लाह ने कहा कि, उनका देश इस मामले को अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने उठाएगा।

@RanaSanaullahPK

जौहर ब्लास्ट मामले से जोड़े RAW के तार, फिर भी नहीं होगा पाक का बेड़ा पार।

जून 2021 में जमात-उद-दावा प्रमुख और अंतरराष्ट्रीय आतंकी हाफिज़ सईद के जौहर कस्बे में स्थित घर के पास एक शक्तिशाली बम विस्फोट हुआ था। इस धमाके में तीन लोगों की मौत हो गई थी और एक पुलिस कांस्टेबल सहित 24 अन्य घायल हो गए थे। छह वर्षीय अब्दुल हक, 50 साल के उसके पिता अब्दुल मलिक और एक युवा राहगीर विस्फोट में मारे गए थे। इस विस्फोट के बाद सड़क पर चार फुट गहरा और आठ फुट चौड़ा गड्ढा हो गया था। आसपास के कई घरों और दुकानों को नुकसान पहुंचा था। घटना के कुछ दिनों बाद, तत्कालीन सूचना मंत्री फवाद चौधरी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डॉ. मोईद यूसुफ ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि हमले का मास्टरमाइंड एक भारतीय नागरिक था और वो भारतीय खुफिया एजेंसी RAW से जुड़ा हुआ था। पंजाब प्रांत के काउंटर टेररिज़्म डिपार्टमेंट ने बलूचिस्तान से जौहर टाउन बम विस्फोट के मास्टरमाइंड और सूत्रधार को गिरफ्तार करने का दावा किया था। उसकी पहचान समीउल हक और उजैर अकबर के रूप में हुई थी। पाकिस्तान की मानें तो इन दोनों ने पूछताछ में बताया था कि वो RAW के लिए काम कर रहे थे। पाकिस्तान की CTD की मानें तो इस मामले की तफ्तीश में RAW के कुछ और अंडरकवर एजेंट्स के बारे में पता चला है। लिहाज़ा, इसी को आधार बनाकर पाकिस्तान भारत को बदनाम करने की साज़िश रच रहा है।

पाकिस्तान ने भारत पर लगाया तालिबान को समर्थन देने का आरोप

जौहर में हुए धमाके की जांच और आरोपियों के क़बूलनामे को आधार बनाकर अब पाकिस्तान एक बार फिर हिंदुस्तान पर कीचड़ उछालने की कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा है कि वो इस जांच से जुड़ी चीज़ों और सबूत को इंटरनेशनल कम्यूनिटी के सामने रखेंगे। यही नहीं राणा सनाउल्लाह ने यहां तक कहा है कि पाकिस्तान में आतंकी वारदातों को अंजाम देने वाले तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (Tehreek-i-Taliban)को भारत की खुफिया एजेंसी RAW का समर्थन हासिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular