Friday, June 21, 2024
HomeविदेशTurkey gives deadly drone to Pakistan: एहसानफरामोश तुर्की ने पाकिस्तान को दिए...

Turkey gives deadly drone to Pakistan: एहसानफरामोश तुर्की ने पाकिस्तान को दिए घातक ड्रोन, जानिए ड्रोन पर तुर्की ने क्यों लगाया जम्मू-कश्मीर का नक्शा

ANKARA: जब तुर्किए में भूकंप आया तो उसकी सबसे पहले मदद करने वाले देशों में भारत भी शामिल था। भारत को रेस्क्यू वर्कर्स और डॉक्टर्स की टीम ने तुर्किए में भूकंप पीड़ितों की भरपूर मदद की। भारत ने दवाईयां तक तुर्किए को भेजीं। लेकिन, एहसानफरामोश तुर्किए एक बार फिर आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान की गोदी में जाकर बैठ हो गया। कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ देने वाला तुर्किए अब पाकिस्तान की सेना को मजबूत बनाने के लिए जमकर उसकी मदद कर रहा है। वो पाकिस्तान को ऐसे हथियार दे रहा है जिनका आतंकियों को पालने पोसने वाला मुल्क कभी भी बेजा इस्तेमाल कर सकता है।

तुर्किए ने पाकिस्तान को दिए घातक ड्रोन
पाकिस्तान को तुर्किए से मिला घातक ड्रोन ----
- तुर्किए ने पाकिस्‍तान की वायुसेना को अपना सबसे अत्‍याधुनिक और घातक ड्रोन अकिंसी दिया है।
- अकिंसी ड्रोन हवा में युद्ध लड़ने में माहिर है और क्रूज मिसाइलों से लैस है। 
- इसमें हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल, छोटे बम, और सिरिट मिसाइलें भी लगी हैं। 
तुर्किए ने पाकि्स्तान को यही अकिंसी ड्रोन दिया है

ड्रोन पर जम्मू-कश्मीर को दिखाया पाकिस्तान का हिस्सा

पाकिस्‍तान को तुर्किए ने जो Bayraktar Akinci HALE ड्रोन दिया है उस पर नया पैच लगाया गया है। इस पैच पर जम्मू-कश्‍मीर को पाकिस्‍तान का हिस्‍सा दिखाया गया है। खबरों की मानें तो इस ड्रोन के पायलटों के लिए खास पैच को पाकिस्‍तानी एयर फोर्स ने डिजाइन किया है। इस पैच पर ‘गेम ऑफ ड्रोन’ लिखा है जो लोकप्रिय टीवी सीरिज ‘गेम ऑफ थ्रोन’ से लिया गया है। तुर्किए ने इस ड्रोन को अभी 5 देशों को सप्‍लाई किया है, जिसमें पाकिस्‍तान, अजरबैजान और किर्गिस्‍तान शामिल हैं।

अकिंसी ड्रोन और उसपर लगा पैच

खाने को रोटी नहीं और ड्रोन के लिए पैसे उड़ा रहा आतंकिस्तान

2022 में आर्थिक संकट सामने आने के बाद से ही पाकिस्तान के अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है। पाकिस्तान में महंगाई चरम पर है। आटे के लिए लोगों को जान देनी पड़ रही है। पाकिस्तान में रमज़ान के महीना में लोगों का जीना मुहाल है। प्याज की कीमतें 500 प्रतिशत से अधिक बढ़कर 220.4 रुपये प्रति किलोग्राम हो गईं, जो एक साल पहले 36.7 रुपये प्रति किलोग्राम थीं। चावल, दाल और गेहूं जैसे अन्य खाद्य पदार्थों की लागत भी एक साल में लगभग 50 प्रतिशत बढ़ी हैं। लेकिन, सरकार इस ओर ध्यान ना देकर अपनी सैन्य ताकत बढ़ाने में जुटी है, जैसे कल ही हिंदुस्तान उसपर हमला कर देगा। सोचिए की जिस पाकिस्तान की अवाम की भूखे मर रही हो वहां की सेना तुर्किए से ड्रोन खरीद रही है। वैसे ज़ुल्फ़िकार अली भुट्टो ने भी कभी कहा था, भूखे मर सकते हैं या घास खा सकते हैं, लेकिन गर्व से कह सकते हैं कि हमारे पास बम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular