Tuesday, May 21, 2024
Homeविदेशपाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान को दोबारा हमले का डर

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान को दोबारा हमले का डर

  • इमरान ख़ान ने विदेशी न्यूज़ चैनल को दिया इंटरव्यू
  • इमरान ने खुद पर दोबारा हमले का अंदेशा जताया
  • इमरान ख़ान ने कहा कि, ‘मिशन के लिए मौत सही’

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान ख़ान (Imran Khan) ने एक बार फिर खुद पर हमले की आशंका जताई है। उन्होंने एक विदेशी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि उनपर दोबारा हमला हो सकता है। दरअसल, विदेशी चैनल के एंकर ने इमरान से सवाल पूछा कि क्या उनकी जान को ख़तरा है। जिसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि, ‘दुर्भाग्य से मुझे लगता है कि वो फिर कोशिश कर सकते हैं। मेरे जीवन के लिए खतरा बना हुआ है। वो लोग मुझे जान से मारना चाहते थे। वो मुझे हटाना चाहते थे। ऐसा इसलिए क्योंकि मेरी पार्टी पाकिस्तान की सबसे लोकप्रिय पार्टी है’।

सेना के इशारे पर इमरान को मारने की साज़िश !

विदेशी चैनल को दिए इंटरव्यू में इमरान ख़ान ये भी कहा कि उनके खिलाफ खड़ी दूसरी पार्टियों को सेना (Pakistan Army)का समर्थन हासिल है। जबकि, उनकी पार्टी ने हाल ही में देश में हुए उपचुनावों में 75 फीसदी जीत हासिल की है। मौजूदा सरकार और सेना पर निशाना साधने के साथ इमरान ख़ान नियाज़ी ने एक बार फिर कहा कि जनता अपराधियों की सरकार को उखाड़ फेंकना चाहती है। उन्होंने कहा कि, ‘जनता इन अपराधियों का समर्थन नहीं करती जो फिलहाल पाकिस्तान पर हुकूमत कर रहे हैं। 61 फीसदी कैबिनेट सदस्यों के ऊपर भ्रष्टाचार के मुकदमें हैं।’

अमेरिका से दोस्ती करना चाहते हैं इमरान

विदेशी चैनल को दिए इंटरव्यू में इमरान ख़ान ने शहबाज़ सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाने के साथ अमेरिका से संबंधों का भी ज़िक्र किया। उन्होंने कहा कि, ‘मैं नहीं चाहता कि इससे पाकिस्तान की जनता के हितों का नुक़सान हो। क्योंकि, पाकिस्तान की जनता का हित इसमें है कि मुल्क के अच्छे ताल्लुकात सभी देशों के साथ हों, खासतौर पर अमेरिका के साथ हों, जो कि एक सुपरपावर है।’

बोले इमरान, मौत से डर नहीं, मिशन पूरा करना ज़रूरी

हकीकी आज़ादी मार्ची को लेकर पूछे गए सवाल पर इमरान ख़ान ने कहा कि चाहे उनकी जान ही क्यों ना चली जाए, लेकिन, वो अपने मिशन से पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि,’ जान का डर मुझे अपने मिशन से पीछे नहीं हटा सकता। क्योंकि, मैं इस देश में क़ानून का राज स्थापित करने के लिए लड़ रहा हूं, जो हमारे देश की सबसे बड़ी समस्या है।’ हालांकि, इमरान ख़ान ने इस दौरान ये भी कहा कि उन्हें पूरी तरह से ठीक होने में चार से पांच हफ्ते और लगेंगे। जिससे लॉन्ग मार्च में उनके शामिल होने को लेकर अलग-अलग तरह के कयास लगाए जाने लगे।

इमरान ख़ान पर हमला गंभीर, ठीक होने में लगेगा समय

विदेश चैनल से इंटरव्यू में इमरान ख़ान ने कहा कि उनका दाहिनी पैर अब भी ठीक नहीं हुआ, जिसमें तीन गोलियां लगी थीं। उन्होंने कहा कि, मेरे दाहिने पैर से तीन गोलियां निकाली गई हैं, और एक गोली जिसने मेरे पैरों की हड्डी को नुकसान पहुंचाया है, उससे दिक्कत हो रही है। मैं अपने पैरों पर शरीर का पूरा भार करीब 4 हफ्तों से पहले नहीं डाल सकता।’ हालांकि, इमरान ख़ान के इस बयान के बाद हकीकी आज़ादी मार्च में जल्द शामिल होने की चर्चाओं को विराम लग गया है। बताया जा रहा है कि इमरान ख़ान अगले हफ्ते इस बाबत कोई ऐलान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Posts

Most Popular